शराब के नशे में डूबे लोंगों के लिए ये 10 शराबी शायरियां

यूँ बिगड़ी बहकी बातों का... कोई शौक़ नही है मुझको... वो पुरानी शराब के जैसी है... असर सर से उतरता ही नहीं।

1.

तुम क्या जानो शराब कैसे पिलाई जाती है,

खोलने से पहले बोतल हिलाई जाती है,

फिर आवाज़ लगायी जाती है आ जाओ टूटे दिल वालों,

यहाँ दर्द-ए-दिल की दवा पिलाई जाती है।

2.

Advertisment

कहीं सागर लबालब हैं कहीं खाली पियालेहैं,

यह कैसा दौर है साकी यह क्या तकसीम है साकी।